देख कर मेरा नसीब - zindagi sad shayari - shayari

देख

देख कर मेरा नसीब मेरी तक़दीर रोने लगी; लहू के अल्फाज़ देख कर तहरीर रोने लगी; हिज्र में दीवाने की हालत कुछ ऐसी हुई; सूरत को देख कर खुद तस्वीर रोने लगी।

    sad shayari in hindi

//

© 2019 HP Video Status. All Rights Reserved | Developed by  Stepup Technosys