उल्फत का यह दस्तूर - zindagi sad shayari - shayari

उल्

उल्फत का यह दस्तूर होता है; जिसे चाहो वही हमसे दूर होता है; दिल टूट कर बिखरता है इस क़द्र जैसे; कांच का खिलौना गिरके चूर-चूर होता है!

    sad shayari in hindi

//

© 2019 HP Video Status. All Rights Reserved | Developed by  Stepup Technosys